Desires

Just another weblog

29 Posts

15493 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.
blogid : 2013 postid : 14

ज़िन्दगी... सवालों-ज़वाबों के बीच...

Posted On: 24 May, 2010 में

  • SocialTwist Tell-a-Friend



सवाल इतने , कि ज़वाब कम पड़ गए
विचार इतने, कि आपस में ही लड़ गए
सोचते -सोचते अब तो दिमाग को भी थकान-सी महसूस होने लगी
उसपर भी…
वक़्त इतना कम कि घड़ी के कांटे भी एक-दूसरे से भिड गए…

लोंगो को देखा हमेशा दौड़ते-भागते
न जाने क्या पा लेने की होड़ में हैं
न किसी को चैन है और न ही आराम
सभी सिर्फ आगे आने की जोड़-तोड़ में हैं…
क्या खो दिया इस सफ़र में, ग़म नहीं किसी को इसका
बस ख़ुशी है कि एक पायदान ऊपर चढ़ गए…
सवाल इतने…

चेहरे पर हंसी तो है, पर त्योरियां तो भी चढ़ी हैं
न जाने कितने बगुलों कि आँख, सिर्फ एक ही मछली पर अड़ी हैं…
ऐसी जीत की ख़ुशी या जश्न मनाएं भी तो कैसे???
जिसके लिए,
हम अपनों को पीछे छोड़ आगे बढ़ गए…
सवाल इतने…

बस बहुत हुआ आपस में लड़ना
फिक्र में सोना, बेचैनी में उठना
झूठी हँसी हँसकर, नाटकीय ज़िन्दगी जीना
और, समझौतों के घूँट भरे पीना…

कहते हैं, “जब जागो तभी सवेरा…”
कभी-न-कभी दूर होगा ये अँधेरा
दिखाई देगी आत्म-संतोष की रौशनी
और हम मुस्कुराते हुए कहेंगे खुइड से…
“आज हम ज़िन्दगी की जंग जीत गए…”

| NEXT

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading ... Loading ...

1218 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

POOJA... के द्वारा
June 3, 2010

@ankur, dilip, udan tashtari and aditya ji… thank you so much…

    Elouise के द्वारा
    July 12, 2016

    194Five Ways of LivingHave the courage to live a life true to you, not the life others exo€t.DpnâÂce™t miss children’s youth and partner’s companionship by working too hard.Have the courage to express feelings don’t harbor bitter resentment.Put the effort in to stay in touch with friends.Happiness is a choice; be happier.

Aditya Tikku के द्वारा
May 31, 2010

Utam

Udan Tashtari के द्वारा
May 25, 2010

कहते हैं, "जब जागो तभी सवेरा…"
कभी-न-कभी दूर होगा ये अँधेरा
दिखाई देगी आत्म-संतोष की रौशनी
और हम मुस्कुराते हुए कहेंगे खुइड से…
"आज हम ज़िन्दगी की जंग जीत गए…

-वाह! बहुत उम्दा!!

    Blessing के द्वारा
    July 11, 2016

    Hm.. making money at home has always on the occasion been really hard; most of the time I purchase some programs and work from those. although they are extremely exneesivp! Trying to make money without any sort of job experience is even harder. Some ebooks are so bad, despite that this post actually Taught me so much. Thank you!

दिलीप के द्वारा
May 24, 2010

bahut sundar rachna…ek achchi kavita…

Ankur Vijaywargiya के द्वारा
May 24, 2010

Bahut achche kavita likhe he mitra aapne.. aap aasha karte he ki aap sada aise he achcha achcha apne kalam se likhte rahenege.. Ma Sarawati aap par apne kripa banaye rakhe and saath me Laxmi maiya ko bhe saath laye and Ganpati bappa aapne sab Vigha har le.
keep it up

    Precious के द्वारा
    July 12, 2016

    Hmmm…I always like what you write, can’t think of anything spc.efii..cBut if you have any ideas for cheap and easy things to make for dinner, I wuld love you forever.

POOJA... के द्वारा
May 24, 2010

Thank you so much Rajey sha and M Verma

M VERMA के द्वारा
May 24, 2010

चेहरे पर हंसी तो है, पर त्योरियां तो भी चढ़ी हैं
न जाने कितने बगुलों कि आँख, सिर्फ एक ही मछली पर अड़ी हैं…'
बहुत सुन्दर रचना.
विसंगतियों का सुन्दरता से बयान.

    Adele के द्वारा
    July 12, 2016

    Yeah, location maps via Google Maps would be nice. either, Google Maps link in &#o220;locati8n section” or even graphical Google Map directly in Shotlist app.

Rajey Sha के द्वारा
May 24, 2010

Behtar…. khoob original

    Randi के द्वारा
    July 12, 2016

    Wonderful story, reckoned we could combine several unrelated data, noehnteless seriously really worth taking a search, whoa did one discover about Mid East has got far more problerms too


topic of the week



अन्य ब्लॉग

  • No Posts Found

latest from jagran